मुख्तार अंसारी नाम के साथ भले ही इतिहास के पन्नों में माफिया, डॉन और गैंगस्टर लिखा जाएगा, लेकिन उनके परिवार का नाम हमेशा इतिहास के पन्नों में अदब से लिखा रहेगा। उनके परिवार से राज्यपाल और देश के उपराष्ट्रपति रहे हैं।